क्या फ़ेसबुक के सीईओ पद से ज़करबर्ग को हटा पाएँगे शेयरहोल्डर्स

By | February 16, 2017
Advertisement
दुनिया की सबसे बड़ी शोसेल नेटवर्किंग कंपनी फ़ेसबुक के फाउंडर और सीईओ मार्क जकरबर्ग को बोर्ड ऑफ डायरेक्टर से हटाने की कावायाद चल रही है. फ़ेसबुक  ने सीईओ के पद से मार्क जकरबर्ग को हटाने के लिए एक प्रस्ताव लाया है. मार्क जकरबर्ग को हटाने के लिए लाये गये इस प्रस्ताव में वो शेयरहोल्डर्स शामिल हैं जो एक ऑनलाइन कान्ज़्यूमर watchdog sumOfUs के भी सदस्य हैं इनका मानना है की एक शकस को सीईओ और बोर्ड ऑफ डाइरेक्टर का सदस्य होना ऑर्गनाइज़ेशन के लिए ठीक नहीं है और इससे शेर्होल्डर्स को परेशानी हो सकती है.
गौरबतलब है की sumOFUs कन्ज़्यूमर वॉचडॉग है जो कई तरह के ग्लोबल मुद्दों जिसे क्लीमेट चेंज,वॉर्करओ के हित्त,हुमें राइट्स, भेदभाव, घोटाले और कार्पोरेट पवर से हो रही दिक्कतों के खिलाफ काम करती है. वेंचर बीट की एक रिपोर्ट के मुताबिक sumOFUs की कॅपिटल मार्केट आड्वाइज़र लीज़ा लिन्द्सलि ने कहा है की फ़ेसबुक को अपने कार्पोरेट सिटिज़नशिप मे सुधार करने के लिए लगभग टीन लाख तैतीस हज़ार लोगों नेपिटिशन दिया है. हालाँकि इसमे पंद्रह सौ लोग फ़ेसबुक के ही शेयरहोल्डर्स हैं.  हालाँकि इन शेरहोल्डर से मार्क ज़करबर्ग को ज़यादा फ़र्क इसलिए नहीं पड़ेगा क्योंकि उनके पास कंपनी के सबसे ज़यादा शेयर्स हैं. ऐसे मे वो दूसरे बोर्ड ऑफ डाइरेक्टर्स और निवेशकों के साथ मिलकर इन आवेदन को खारिज़ कर सकते हैं. दो 2012 से मार्क ज़करबर्ग फ़ेसबुक के बोर्ड ऑफ डाइरेक्टर मे शामिल हैं और तब से कंपनी लगातार कमाई कर रही है. फिलहाल फ़ेसबुक के 1.86 बिलियन यूज़र्स हैं

 

Advertisement

 

Hindi typing with Quillpad

Advertisement

Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *